अनुसूचित जाति के युवाओं को ‘व्यवसाय संवाददाता’ का तोहफा देगी योगी सरकार

12
Loading...
Loading...

लखनऊ, 02 जनवरी (हि.स.)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अनुसूचित जाति के बेरोजगार युवाओं को नए वर्ष का तोहफा दिया है। इसके तहत अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम अनुसूचित जाति के आर्थिक रूप से कमजोर व्यक्तियों को व्यवसाय संवाददाता बनाने जा रहा है। निगम के अध्यक्ष डाॅ. लालजी प्रसाद निर्मल ने नए वर्ष में शुरू की जा रही नई योजना के लिए इस जाति के बेरोजगार युवाओं से आगे आने की अपील की है।
अगले वित्तीय वर्ष में सभी जिलों में लागू करने का फैसला
उन्होंने राजधानी के वीवीआईपी गेस्ट हाऊस में गुरुवार को आयोजित पत्रकार वार्ता में कहा कि अनुसूचित जाति के व्यक्तियों के आर्थिक उत्थान के लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। इस योजना के तहत नववर्ष में प्रदेश के 500 युवा बेरोजगारों को स्वरोजगार से जोड़ा जाएगा। यह योजना अगले वित्तीय वर्ष में सभी जिलों में लागू कर दी जाएगी। एमएस एक्ट 2013 के तहत चिन्हित स्वच्छकार एवं उनके आश्रितों में से 100 लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी।
बेरोजगार युवाओं से उद्योग धंधे लगाने की अपील
डाॅ. निर्मल ने पूरे प्रदेश के बेरोजगार युवाओं से उद्योग धंधे लगाने और रोजगार शुरू करने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि इस योजना में व्यवसाय संवाददाता को कम्प्यूटर, हार्डवेयर-साफ्टवेयर, एक फिंगर प्रिंट मशीन, स्वैपिंग मशीन और इनवर्टर खरीदने के लिए ब्याजमुक्त आर्थिक मदद दी जायेगी।
बैंकों का काम आसान बनायेंगे व्यवसाय संवाददाता
व्यवसाय संवाददाता राष्ट्रीयकृत बैंकों के अधिकृत एजेंट के रूप में कार्य करेंगे। इसके लिए संबंधित बैंक द्वारा व्यवसाय संवाददाता से 15 हजार रुपये की धनराशि सिक्योरिटी के रूप में जमा करायी जाएगी। जमा धनराशि की सीमा के भीतर व्यवसाय संवाददाता राष्ट्रीयकृत बैंकों में बचत खाता, आवर्ती जमा खाता, किसान क्रेडिट कार्ड, नामांकन कार्ड, आईडी कार्ड, पैसा जमा करने-निकालने, ऑनलाइन धनराशि हस्तांतरित करने आदि की बैंकिंग सुविधा ग्राहकों को दे सकेंगे। व्यवसाय संवाददाताओं को केन्द्र और राज्य सरकार की अनेक योजनाओं की जानकारी होगी। इसके लिए इन्हें प्रशिक्षण भी दिया जायेगा। अनुसूचित जाति की समस्त योजनाओं की जानकारी होने से व्यवसाय संवाददाता दलित मित्र की भूमिका में मददगार साबित होंगे।
दीन दयाल उपाध्याय स्वरोजगार योजना साबित हो रही मददगार
उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के अनुसूचित जाति के कमजोर वर्गों को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए पंडित दीन दयाल उपाध्याय स्वरोजगार योजना के तहत 15 लाख रुपये तक की परियोजनाएं पहले से संचालित है। इसमें पशुपालन, डेयरी उद्योग, खाद्य एवं बीज की दुकान, मधुमक्खी पालन, टी स्टाल, टेंट हाऊस, रेडीमेड गारमेंट की दुकान, कास्मेटिक शाप तथा यातायात क्षेत्र की योजनाओं को शुरू करने के लिए वित्तीय सहायता दी जा रही है। इस योजना के तहत निगम द्वारा विगत 2 वर्षों में 51 हजार लोगों को स्वरोजगार से जोड़ा गया है और उन्हें 5503.43 लाख का वित्त पोषण किया गया है।
प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना में 1389 गांवों का चयन
अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम अनुसूचित वर्गों के आर्थिक सशक्तिकरण के साथ ही इन वर्गों के समग्र विकास के लिए कार्य कर रहा है। इसके तहत प्रदेश में प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अन्तर्गत 1389 अनुसूचित जाति बाहुल्य गांवों का चयन किया गया है। इन गांवों में शुद्ध पेयजल की व्यवस्था, तरल एवं ठोस कचरे के निस्तारण की सुविधा, आंगनबाड़ी एवं विद्यालयों में शौचालय की स्थाई व्यवस्था, आंगनबाड़ी का निर्माण, संपर्क मार्गों का निर्माण, सोलर लाइट एवं स्ट्रीट लाइट की व्यवस्था के साथ ही साथ सरकार की आवास एवं शौचालय योजना, वृद्धावस्था एवं विधवा पेंशन योजना से इन गांवों को आच्छादित किया जायेगा।

 

.fb_iframe_widget_fluid_desktop iframe {
width: 100% !important;
}

The post अनुसूचित जाति के युवाओं को ‘व्यवसाय संवाददाता’ का तोहफा देगी योगी सरकार appeared first on Khabarworld.

rjo2rjo2
Loading...
Loading...