1 अक्टूबर से सभी एसबीआई ग्राहकों पर लागू होंगे ये नए नियम, क्लिक कर जानें

RJ02RJ02

आज का विषय है, 1 अक्टूबर से सभी एसबीआई ग्राहकों पर लागू होंगे ये नए नियम। दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते है, कि आज के समय में ज्यादतर लोग भारतीय स्टेट बैंक यानी एसबीआई में खाता खुलवाना ज्यादा पसंद करते है, क्योंकि एसबीआई रोजाना अपने सभी ग्राहकों को बड़े-बड़े तोहफे देता रहता है, तो यदि आपका भी एसबीआई में खाता खुला हुआ है, तो 1 अक्टूबर से सभी एसबीआई ग्राहकों पर कुछ नए नियम लागू होंगे, तो वो क्या नए नियम लागू होंगे। आज हम आपको इसी के बारे में जानकारी देंगे, तो आइये जानते है।

RJ02RJ02

दोस्तों दरअसल मोदी मोदी सरकार के आदेशानुसार भारतीय स्टेट बैंक यानी एसबीआई 1 अक्टूबर 2019 से अपने सर्विस चार्ज में बदलाव करने वाला है। जिसमें बैंक में रुपये जमा करना, निकालना, चेक का इस्तेमाल, एटीएम ट्रांजेक्शन से जुड़े सर्विस चार्ज शामिल हैं।

ये होंगे 1 अक्टूबर से बदलाव

1 – केवल तीन बार मुफ्त में जमा करवा सकेंगे पैसे – दोस्तों बैंक के सर्कुलर के अनुसार 1 अक्टूबर 2019 से आप अक महीने में केवल तीन बार मुफ्त में पैसे जमा करवा सकते हैं। इसके बाद यदि आपने अपने खाते में 100 रुपये भी जमा किए तो आपको 50 रुपये (जीएसटी अतिरिक्त) का चार्ज देना पड़ेगा। पांचवी या उसके बाद यदि आपने एक रुपये भी जमा किए तो आपको 56 रुपये का चार्ज देना होगा।

2 – चेक बाउंस – दोस्तों यदि चेक किसी कारण से बाउंस हो जाता है, तो चेक जारी करने वाले पर 150 रुपये और जीएसटी का अतिरिक्त भुगतान करना होगा। जीएसटी मिलाकर यह चार्ज 168 रुपये होगा।

3 – आरटीजीएस और एनईएफटी पर देना होगा चार्ज – दोस्तों यदि कोई भी व्यक्ति बैंक शाखा में जाकर आरटीजीएस या फिर एनईएफटी करता है, तो उसको चार्ज देना होगा। हालांकि नेटबैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग या फिर योनो एप से किए जाने वाले ऐसे ट्रांजेक्शन पर कोई चार्ज नहीं लगेगा।

ये होंगे आरटीजीएस के चार्ज

1 – दो लाख से पांच लाख तक 20 रुपये (जीएसटी अतिरिक्त)

2 – पांच लाख से ऊपर 40 रुपये (जीएसटी अतिरिक्त)

ये होंगे एनईएफटी के चार्ज

1 – 10 हजार रुपये दो रुपये (जीएसटी अतिरिक्त)

2 – 10 हजार से एक लाख रुपये चार रुपये (जीएसटी अतिरिक्त)

3 – एक लाख से दो लाख रुपये 12 रुपये (जीएसटी अतिरिक्त)

4 – दो लाख रुपये से ऊपर 20 रुपये (जीएसटी अतिरिक्त)

RJ02RJ02